स्कूल चैंप्स पहचानेगा स्टूडैंट्स के भीतर छुपे टैलेंट को


शहर के 100 से अधिक स्कूलों में 15 दिसंबर से हो रहा ओलंपियाड

जयपुर। आपके बच्चे के भीतर वैज्ञानिक छुपा है या डॉक्टर या फिर इंजीनियर? स्कूल चैंप्स ओलंपियाड से आप आसानी से यह जान सकेंगे। जरूरतमंद बच्चों को निःशुल्क शिक्षा प्रदान करने में कार्यरत गैर सरकारी संस्था “आई कैन फाउंडेशन”, फीएस्टा और द ड्यून्स की ओर से जयपुर के 100 से अधिक स्कूलों में 15 दिसंबर से 15 जनवरी तक स्कूल चैंप्स ओलंपियाड आयोजित की जाएगी। स्कूल चैंप्स के आयोजक यश तिवारी, सलाहकार दिवस कायथ, आशुतोष, लक्ष्य और महेश ने बताया कि स्कूल चैंप्स एक एकेडमिक कॉम्पिटिशन है। इसमें बच्चों को एजुकेशन क्वालिटीज हाईलाइट करने का मौका मिलेगा। यह काम्पटिशन क्लास 5 से 12 के स्टूडैंट्स के लिए जयपुर के सभी स्कूलों में रखा जाएगा। स्कूल चैंप्स में बच्चों के एकेडमिक हुनर को पहचान कर उन्हें स्कॉलरशिप दी जाएगी, ताकि उनकी भविष्य की शिक्षा और आगामी विकास में कोई रुकावट ना आए। उन्होंने बताया कि इस आयोजन का उद्देश्य क्लास रूम में सब्जेक्ट्स को और अधिक इंटरैक्टिव, व्यावहारिक और अभिनव बनाना है। साइंस एंड टेक्नोलॉजी और सब्जेक्ट्स के नवीनतम ज्ञान की इनफॉरमेशन देना है। हम स्टूडैंट्स को नेशनल और इंटरनेशनल कॉम्पिटिशन में पार्टिसपेट करने के लिए इन्करज करेंगे। हम चाहते हैं कि स्कूल चैंप्स के जरिए स्टूडैंट्स के बीच हेल्थी काम्पटिशन की भावना डेवलप हो। कौन से स्टूडैंट्स इस काम्पटिशन में पार्टिसपेट कर सकते हैं, के सवाल पर यश ने कहा कि इस कॉम्पिटिशन में वो स्टूडैंट्स पार्टिसपेट कर सकते हैं जो मानते हैं कि कॉम्पिटिशनमें भाग लेना अच्छा है। जो नए पर्टन के अनुरूप खुद की तैयारी को आंकना चाहते हैं। जो खुद को फ्यूचर के लिए प्रीपेर करना चाहते हैं। जो जयपुर में नए स्टूडैंट्स के साथ कम्पीट करना चाहते हैं। जो स्टूडैंट्स अपनी ओवर ऑल एकेडमिक स्ट्रेंगथ को इम्प्रूव करना चाहते हैं। आयोजकों ने बताया कि 20 जनवरी 2020 को अवॉर्ड फंक्शन रखा जाएगा और स्कूल चैंप्स में भाग लेने वाले सभी बच्चों को सर्टिफिकेट और मेडल मिलेगा। विनर्स के लिए 3 लाख रुपए तक स्कॉलरशिप, लैपटॉप, टेबलेट जैसे प्राइज रखे गए हैं। उन्होंने बताया कि बच्चों के अच्छे रिजल्ट के लिए इस कॉम्पिटिशन में पूरी तरह से माता-पिता को शामिल किया जाएगा।

Advertisements